आज किसानों का KMP पर ट्रैक्टर मार्च, थम सकता वाहनों का पहिया

रेवाड़ी, गुरुग्राम, नूंह, पलवल तथा अन्य जिलों के किसान भी बीच में केएमपी पर चढ़ सकते हैं।

गुरुग्राम : नये कृषि कानून के विरोध में दिल्ली की कई सीमाओं पर किसान धरने पर बैठे हैं। ऐसे में फिलहाल दिल्ली आवागमन का प्रमुख मार्ग कुंडली-मानेसर-पलवल (केएमपी) एक्सप्रेस-वे ही है। किसानों ने बृहस्पतिवार को एक्सप्रेस-वे पर ट्रैक्टर मार्च करने का एलान किया है।

किसान कुंडली बार्डर से सैकड़ों की संख्या में ट्रैक्टर लेकर केएमपी पर चढ़ेंगे और पलवल की तरफ मार्च करेंगे। वहीं रेवाड़ी, गुरुग्राम, नूंह, पलवल तथा अन्य जिलों के किसान भी बीच में केएमपी पर चढ़ सकते हैं।

किसानों के प्रदर्शन को देखते हुए सभी जिलों का प्रशासन अलर्ट है। काफी संख्या में पुलिस बल लगाने की तैयारी जिससे जाम नहीं लगे। वही आम वाहन चालकों को वैकल्पिक मार्ग से जाने की सलाह भी दी जा रही है।

गुरुग्राम पुलिस आयुक्त केके राव ने दावा किया कि जाम किसी भी हालत में नहीं लगने दिया जाएगा। किसानों को बादली से आगे नहीं बढ़ने देने की योजना है। वहीं सोनीपत पुलिस-प्रशासन ने भी वाहन चालकों को बृहस्पतिवार को केएमपी पर जाने से बचने की हिदायत दी है।

Leave a Reply

Your email address will not be published.